ऑल इंडिया ट्रेडिशनल रेसलिंग दत्तात्रेय ने जीता गोल्ड मेडल, हुआ भव्य स्वागत WERSLING

ऑल इंडिया ट्रेडिशनल रेसलिंग दत्तात्रेय ने जीता गोल्ड मेडल, हुआ भव्य स्वागत WERSLING


विप्र.
इमामगंज। प्रखंड क्षेत्र के लाल ने ऑल इंडिया ट्रेडिशनल रेसलिंग में गोल्ड मेडल जीतकर कमाल किया है। इसके बाद उसे घर पहुंचने पर लोगों ने भव्य स्वागत किया। दरअसल ऑल इंडिया ट्रेडिशनल रेसलिंग एवं पैकरेशन फेडरेशन के अंतर्गत हैदराबाद में एलबी स्टेडियम में चार दिवसीय राष्ट्रीय बेल्ट कुश्ती चैंपियन का आयोजन करवाया गया। 1 से 4 फरवरी के बीच खेला गया जिसमें भारत के कई राज्यों खिलाड़ियों ने भाग लिया। जिसमें गया जिले की मोहम्मद प्रखंड क्षेत्र के रानीगंज निवासी जनार्दन विश्वकर्मा के पुत्र दत्तात्रेय विश्वकर्मा उर्फ मुन्ना ने 65 किलो के भार वर्ग में भाग लेकर क्वार्टर फाइनल में केरल को 60 से, सेमीफाइनल में दिल्ली को भी 60 से और फाइनल मणिपुर से 1-3 से पीछे होकर भी आखिरकार 7 सेकंड में बाइ फॉल पटक कर मैच को अपने नाम कर गोल्ड मेडल प्राप्त किया है। इसी पर गोल्ड मेडल प्राप्त करने पर सांसद सुशील कुमार सिंह और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री सह स्थानीय विधायक जीतन राम मांझी भी की उन्हें बधाई दी। वही जब रविवार को मणिपुर से गोल्ड मिल प्राप्त कर दत्तात्रेय शर्मा ने इमामगंज पहुंचा तो उसे प्रखंड वासियों के द्वारा इमामगंज के गांधी मैदान में स्वागत कार्यक्रम का आयोजन कर भाई स्वागत किया गया। इस दौरान मुख्य अतिथि इमामगंज एडीपीओ अमित कुमार, मुख्य पार्षद प्रतिनिधि भवानी सिंह, छकरबंधा पंचायत के मुखिया श्याम सुंदर प्रसाद, हम के प्रखंड अध्यक्ष रामप्रीत भारती, श्रीमोहन यादव सहित उन लोगों ने उसे माला पहनकर एवं मेडल देकर उत्साहित करते हुए भव्य स्वागत किया और उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। वहीं इस दौरान मुख्य अतिथि एडीपीओ श्री अमित कुमार ने कहां की शिक्षा के साथ-साथ खेल के प्रति बच्चों को रुचि रखता ही चाहिए। क्योंकि खेल से भी बच्चे सही रास्ता में जाकर अच्छे मुकाम पर पहुंच सकते हैं। उनके पेरेंट्स को भी चाहिए कि अपने बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ खेल के प्रति उत्साहित करें। उन्होंने कहा कि आज के बच्चे शिक्षा ग्रहण इस उदय से करते हैं उन्हें आईएएस, आईपीएस बनना लेकिन एक्सपोर्ट्स के पीछे कम लोग ही आते हैं। आयुष आईपीएस की बात करें तो लोग हंड्रेड में हंड्रेड आगे रहते हैं लेकिन एक्सपोर्ट्स के पीछे एक या दो लोगों ही रहते हैं। इसलिए जो बच्चे पढ़ाई करते हैं वह देख तो पढ़ाई से बहुत आगे कंपटीशन एक्सपोर्ट्स में होती है। जब आप पूरे इंडिया में क्रिकेट की बात करेंगे तो बहुत कम लोग हैं लेकिन आईपीएस और इस की बात करेंगे तो सैकड़ो लोग से अधिक है। मतलब कंप्रेशन करेंगे तो एक्सपोर्ट्स से ज्यादा इस और आईपीएस लोग हैं। इसलिए अब बच्चों एवं उनके विभाग से अनुरोध करें कि आप अपने बच्चों को शिक्षा के साथ-साथ खेल के प्रति सपोर्ट करें। ताकि आगे दत्तात्रेय की तरह भी यहां के कई बच्चे रास्ते पर लेवल तक खेल सके और देश के साथ-साथ विदेश में भी नाम रोशन करें। वहीं  उन्होंने गोल्ड मेडल विजेता दत्तात्रेय शर्मा को जीत की बधाई देते हुए उनसे राष्ट्रीय स्तर पर खेलने को लेकर प्रेरित किया और उनके उज्जवल विश्व की कामना की। इस मौके पर मुख्य पार्षद प्रतिनिधि भवानी सिंह, मुखिया श्याम सुंदर प्रसाद, श्रीमोहन यादव, रामप्रीत भारती, जनार्दन विश्वकर्मा सहित अन्य सैकड़ों लोग गोल्ड मेडल विजेता दत्तात्रेय शर्मा फूलों के कुछ एवं माला पहनकर बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना किया।

हमारे Whatsapp Group को Join करें, और सभी ख़बरें तुरंत पाएं (यहीं क्लिक करें - Click Here)

Previous Post Next Post