खेल कोटा से दारोगा बनी नवादा की आरती को माॅडर्न ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. अनुज सिंह ने किया सम्मानित - Daroga Bani

खेल कोटा से दारोगा बनी नवादा की आरती को माॅडर्न ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. अनुज सिंह ने किया सम्मानित - Daroga Bani

- आरती ने कहा यहां तक पहुंचने में डॉ. अनुज सर का बहुत सहयोग रहा, जिले के खिलाड़ियों को हमेशा सहयोग करते रहते हैं


नवादा (रवीन्द्र नाथ भैया) 

मन में कुछ कर गुजरने की चाहत हो और कडी़ मेहनत के साथ ईमानदार प्रयास किया जाय तो कोई भी लक्ष्य हासिल किया जा सकता है। वारिसलीगंज जैसे छोटे शहर में रह कर भी यदि मैं सफलता प्राप्त कर सकती हूं तो कोई भी विद्यार्थी अथवा खिलाड़ी किसी भी क्षेत्र में ऐसा कर सकता है। यह कहना है भारतीय रग्बी टीम की सदस्य, अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी और हाल ही में बिहार सरकार के खेल कोटा के तहत दारोगा का पद प्राप्त करने वाली आरती कुमारी का। आरती गुरुवार को माॅडर्न इंग्लिश स्कूल, कुंती नगर नवादा में आयोजित सम्मान समारोह में छात्रों को संबोधित कर रही थीं।

उन्होंने अपने संबोधन में माॅडर्न शैक्षणिक समूह के चेयरमैन डाॅ अनुज की जमकर तारीफ की और कहा कि डाॅ अनुज सर जिस तरह जिले में खेल और खिलाड़ियों का प्रोत्साहन करते हैं वह अद्वितीय है। सर की प्रेरणा का ही प्रतिफल है कि मैं भारतीय रग्बी टीम की नियमित सदस्य रही और दरोगा बनकर इस मुकाम पर हूँ| 

इस अवसर पर माॅडर्न शैक्षणिक समूह के चेयरमैन एवं जाने माने शिक्षाविद डाॅ अनुज सिंह ने आरती को सम्मानित करते हुए कहा कि पढा़ई के साथ- साथ खेलकूद और अन्य क्षेत्रों में भी आगे बढ़ने के तमाम अवसर मौजूद हैं, इसलिए विद्यार्थियों एवं अभिभावकों को अपनी सोच बदलने और अपने बच्चों की रुचि को पहचानकर उसी दिशा में आगे बढा़ने की आवश्यकता है।

 क्रिकेट के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी ईशान किशन, हैंडबॉल के अंतरराष्ट्रीय खिलाड़ी कनक कुमार और खुशबू के बाद अब नवादा की बेटी आरती इसका एक उदाहरण हैं। उन्होंने उपस्थित बच्चों को आरती से प्रेरणा लेने को कहा। 

उन्होंने बताया कि साधारण घर की बेटी होकर इस मुकाम तक पहुंचने में आरती को बहुत कठिनाइयां झेलनी पड़ी।

इस अवसर पर विद्यालय के प्राचार्य जी. सी. दास, उप प्राचार्य मिथिलेश विजय, राष्ट्रपति पुरस्कार प्राप्त खेल प्रशिक्षक अलखदेव यादव, शिक्षक धर्मवीर सिन्हा, दीपक प्रुष्टि, रौशन मिश्रा, प्रत्यूष आनंद, धरम प्रकाश, राकेश रोशन और बी.एड छात्र राहुल कुमार आदि शिक्षक और हजारों बच्चे उपस्थित थे।

हमारे Whatsapp Group को Join करें, और सभी ख़बरें तुरंत पाएं (यहीं क्लिक करें - Click Here)

Previous Post Next Post